भोज का अपमान एक सम्प्रदाय विशेष का ही नहीं अपितु पूरे देश का अपमान है -

Total Views : 156
Zoom In Zoom Out Read Later Print

शासन -प्रशासन को सम्बन्धित पार्षद के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने का साहस दिखाना होगा - मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने नागपुर के 19 संगठन के सभी पदाधिकारी पहुँच रहे हैं भोपाल-

भोपाल।  भगवान् राम और कृष्ण के बाद सबसे ज्यादा लोकप्रिय और गुणवान राजा भोज के बारे में भोपाल नगर निगम के पार्षद द्वारा की गई अवांछित और अभद्र टिप्पणी की भोजवंशीय समाज पुरजोर भर्त्रसना करता है। 


इस सम्बन्ध में सभी समाज संगठन एकजुट होकर स्थानीय स्तर पर SDM और कलेक्टर के ज्ञापन सौपकर अपना विरोध जता सकते हैं और सम्बंधित के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की माँग कर सकते हैं। 


संगठन स्तर पर  प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर अपनी बात रख सकते हैं और सम्बंधित पार्षद द्वारा की गई अशोभनीय टिप्पणी के लिए उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने की बात रखी जा सकती है। 


हर राज्य में संचालित समाज संगठन स्तर से मुख्यमंत्री को अपने लेटर हेड पद टंकित ज्ञापन में सम्बंधित पार्षद के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की मांग कर अपनी एकता का प्रदर्शन कर सकते हैं। 


 नागपुर में संचालित 19 समाज संगठन के लगभग 60 पदाधिकारी 28 जून 2019  को भोपाल पहुँच रहे हैं। वे पार्षद की अवांछित टिप्पणी से समाज की भावनाएं आहत होने  से अवगत कराएँगे और दोषी को कड़ी सजा दिलाने के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री जी को ज्ञापन सौपेंगे। 


मध्यप्रदेश में संचालित अन्य समाज संगठन भी नागपुर संगठनों से साथ शामिल होकर अपनी एकता और एकजुटता का प्रदर्शन कर सकते हैं। भोपाल में निवासरत समाज सदस्यों को चाहिए कि वे बड़ी संख्या में मुख्यमंत्री आवास पहुंचें।  श्री हिरदीराम ठाकरे जी नागपुर द्वारा सुखवाड़ा से चर्चा कर  उनके साथ शामिल होने की अपील की गई है।  आपकी सुविधा के लिए श्री ठाकरेजी का मोबा न दिया जा रहा है -7020144588 


अभी श्री ठाकरेजी द्वारा सूचित किया गया कि श्री मनोज टेम्भरेजी बालाघाट की सम्बन्धित पार्षद से बात हुई है जिसमें पार्षद ने इस तरह की बात करने का खंडन किया है।  कल सम्बंधित पार्षद राजा भोज की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर सार्वजनिक माफ़ी मांगने हेतु भी तैयार है। 


हमें चाहिए कि पूरे  मालवांचल को भी साथ लेकर जोरदार प्रदर्शन कर एकता का परिचय दिया जाए ताकि भविष्य में भी फिर कभी कोई इस तरह की टिप्पणी न कर पाए।


आपका "सुखवाड़ा" ई -दैनिक और मासिक।

See More

Latest Photos

Share via Whatsapp